Muslim World

काहिरा : गाजा युद्धविराम पर आज इजराइल-हमास वार्ता,13 दिन में 400 फिलिस्तीनी मरे

मुस्लिम नाउ ब्यूरो, रियाद

इजराइल और हमास के बीच संघर्ष विराम वार्ता रविवार को मिस्र की राजधानी काहिरा में फिर से शुरू होगी. मिस्र के अल-क़ायरा न्यूज़ टीवी ने एक सुरक्षा स्रोत का हवाला देते हुए बताया कि यह गाजा पट्टी में लगभग छह महीने पुराने युद्ध को समाप्त करने का नवीनतम प्रयास होगा, जिसमें दोनों पक्षों के प्रतिनिधि शामिल होंगे.

एक इजराइली अधिकारी ने बताया कि इजराइल रविवार को काहिरा में एक प्रतिनिधिमंडल भेजेगा. हालाँकि, हमास के एक अधिकारी ने रॉयटर्स को बताया कि उनका समूह पहले इज़राइल के साथ अपनी पिछली वार्ता के नतीजे पर काहिरा के मध्यस्थों से जवाब सुनने का इंतजार कर रहा.

ALSO READ

बेंजामिन नेतन्याहू इजरायल के अब तक के सबसे खराब प्रधानमंत्री

हमास का संघर्षविराम, बंधक और कैदियों की अदला-बदली को लेकर क्या है नया प्रस्ताव

हमास-इजरायल युद्ध: रमजान से पहले युद्धविराम की उम्मीद खत्म: हमास

इज़राइल ने गाजा में फिलिस्तीनी Hamas समूह द्वारा रखे गए 130 बंधकों में से 40 की प्रस्तावित रिहाई के बदले में सैन्य अभियानों को छह सप्ताह के लिए निलंबित करने की मांग की है, जबकि हमास ने लड़ाई को समाप्त करने और इजरायली बलों की पूर्ण वापसी का आह्वान किया है.
.
इज़राइल ने इस शर्त को खारिज कर दिया. कहा कि वह गाजा में हमास के शासन और सैन्य क्षमताओं को समाप्त करने के प्रयास फिर से शुरू करेगा.हमास यह भी चाहता है कि युद्ध के पहले चरण के दौरान गाजा शहर और आसपास के इलाकों से दक्षिण भाग गए लाखों फिलिस्तीनियों को उत्तर में वापस जाने की अनुमति दी जाए.

एक इज़रायली अधिकारी ने कहा कि उनका देश विस्थापित लोगों में से “कुछ” को वापस लौटने की अनुमति देने पर बातचीत के लिए तैयार है.हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, पिछले साल 7 अक्टूबर से गाजा पट्टी में इजरायली सैन्य अभियानों में 32,000 से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए हैं.

7 अक्टूबर को, हमास ने इज़राइल द्वारा स्थापित सीमा पार की और इसके दक्षिणी क्षेत्र में सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया.इज़राइल ने दावा किया कि हमास ने नागरिकों पर हमला किया और लगभग 1,200 लोगों को मार डाला, जबकि गाजा में 253 लोगों को बंधक बना लिया गया.

उधर, इजराइल ने गाजा पट्टी पर हवाई और जमीनी बमबारी जारी रखी है.फिलिस्तीनी रेड क्रिसेंट के मुताबिक, शुक्रवार के बाद शनिवार को भी इजरायली बमबारी में कई लोग मारे गए हैं.

अल-शिफा अस्पताल की घेराबंदी में सैकड़ों मरे

अल-जजीरा की एक रिपोर्ट के अनुसार,गाजा के मीडिया कार्यालय का कहना है कि अल-शिफ़ा अस्पताल पर इज़राइल के 13 दिवसीय हमले के दौरान 400 से अधिक लोग – मरीज़, युद्ध-विस्थापित और स्वास्थ्य कर्मचारी मारे गए हैं.

हजारों की संख्या में इजरायली नेतन्याहू सरकार की निंदा करते हुए और बंदियों की रिहाई के लिए तत्काल समझौते की मांग करते हुए तेल अवीव की सड़कों पर उतर आए हैं.अल-शिफा अस्पताल की घेराबंदी के दौरान फिलिस्तीनी लड़ाकों ने इजरायली सैनिकों और बख्तरबंद वाहनों पर मोर्टार और रॉकेट से हमला किया है.

7 अक्टूबर से गाजा पर इजरायली हमलों में कम से कम 32,705 फिलिस्तीनी मारे गए हैं और 75,190 घायल हुए हैं. हमास के 7 अक्टूबर के हमले में इजरायल में मरने वालों की संख्या 1,139 है, जबकि दर्जनों अभी भी बंदी बनाए गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *