PoliticsTOP STORIES

मुख्तार अंसारी ने आखिरी समय अपने बेटे उमर से क्या बातें कीं ?

मुस्लिम नाउ ब्यूरो, नई दिल्ली

पांच बार के एमएलए मुख्तार अंसारी की रहस्यमय मौत को लेकर तरह-तरह की बातें सामने आ रही हैं और अलग-अलग रहस्योद्घाटन किए जा रहे हैं. तमाम तरफ से बस एक ही आरोप है कि जिन परिस्थितियों में मुख्तार अंसारी की मौत हुई, उसमें निश्चित तौर जेल प्रशासन और जेल के स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही है.

इसी क्रम में इंस्टाग्राम पर एक ‘साउंड ट्रैक’ वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया गया है कि मुख्तार अंसारी की आखिरी बार उनके छोटे बेटे उमर अंसारी के साथ बातचीत हुई थी.इस इंस्टाग्राम पोस्ट में कितनी सच्चाई है, इसकी गारंटी मुस्लिम नाउ नहीं लेता. बावजूद इसके यदि यह सही है तो पूरी बातचीत सुनकर लगता है कि आखिरी वक्त में मुख्तार अंसारी न केवल बेहद कष्ट में थे, उनकी तबियत भी बुरी तरह खराब थी. ऐसे में डॉक्टरों ने उन्हें कैसे स्वस्थ्य घोषित कर दिया ? यह अपने आप में बड़ा सवाल है.उमर और मुख्तार अंसारी की बात कुछ यूंह है….

मुख्तार बेटे उमर से पूछते हैं-‘‘बाबू सब ठीक है.’’
जवाब में उमर पिता मुख्तार अंसारी से कहते हैं-‘‘अल्लाह ने बचालिया, हिम्मत रखिए, सब कुछ नहीं हो जाएगा.

यहां शायद उनके पिछले तबियात खराब होने का संदर्भ था.

जवाब में मुख्तार अंसारी बेहद कमजार आवाज में कहते सुनाई देते हैं-‘‘18 तारीख के बाद पाक नहीं रह पा रहे हैं बाबू, रोजा नहीं रख पा रहे हैं, एक वक्त की जमात नहीं कर पा रहे हैं.
वो आगे कहते हैं-हम बेहोशी टाइप हो जा रहे हैं.
उमर कहते हैं-हां, हमने वीडियो काॅल में देखा.

इसपर मोख्तार अंसारी की आवाज सुनाई पड़ती है-‘‘दो दिन,चार दिन,पांच दिन और….हम ठीक से बैठ नहीं पा रहे हैं बाबू.’’

वह फिर आगे कहते हैं-‘‘दो-चार दिन और ताकि ठीक से बैठ सकें.’’

वह आगे कहते हैं-‘‘अगर अल्लाह जिंदा रखेगा, बस रूह रहेगी, नहीं तो बाॅडी चली जाएगी.’’

मुस्लिम नाउ के पाठक भी यह कन्वर्शेन सुन सकें, इसके लिए यहां यह वीडियो साझा की जा रही है. इंस्टाग्राम पर यह वीडियो न्यूज आउट लेट द न्यूज 15 ने साझा किया है.

एबीपी न्यूज़ से बातचीत में भी उमर अंसारी ने जेल की चिकित्सा व्यवस्था पर उंगली उठाई है. यहां तक कि वह खाने में जहर वाली बात पर भी अपनी राय रखते नजर आते हैं. न्यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने पिता मुख्तार अंसारी की मौत को लेकर कई तरह के संदेह जाहिर किए हैं.

ALSO READमुख्तार अंसारी की न्यायिक हिरासत में मौत सत्ता पर धब्बा !

मुख्तार अंसारी की मौत, बीजेपी से पसमांदा वोटर्स के दूर होने का खतरा

Mukhtar Ansari : सुबह 10 बजे यूसुफपुर की कालीबाग कब्रिस्तान में किए जाएंगे दफन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *